195a

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “ किसी व्यक्ति को मिथ्या साक्ष्य देने के लिए धमकी देना भारतीय दंड संहिता की धारा 195a क्या है | 195a Ipc in Hindi | IPC Section 195a | Threatening any person to give false evidence के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

[ Ipc Sec. 195a ] हिंदी में –

किसी व्यक्ति को मिथ्या साक्ष्य देने के लिए धमकी देना-

जो कोई अन्य व्यक्ति को उसके शरीर, ख्याति या सम्पत्ति या किसी व्यक्ति के, जिसमें वह व्यक्ति हितबद्ध है, शरीर या ख्याति को उस व्यक्ति से मिथ्या साक्ष्य दिलाने के आशय से किसी अपहानि की धमकी देता है, वह किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि सात वर्ष तक हो सकेगी या जुर्माने से या दोनों से दण्डित किया जाएगा;

और यदि निर्दोष व्यक्ति ऐसे साक्ष्य के परिणामस्वरूप दोषसिद्ध किया जाता है और मृत्यु या सात वर्ष से अधिक के कारावास से दण्डित किया जाता है, तो व्यक्ति, जो धमकी देता है, उसी दण्ड और दण्डादेश से उसी ढंग में तथा उसी सीमा तक दण्डित किया जाएगा, जैसे कि ऐसा निर्दोष व्यक्ति दण्डित और दण्डादिष्ट किया जाता है।

195a Ipc in Hindi

[ Ipc Sec. 195a ] अंग्रेजी में –

“ Threatening any person to give false evidence ”–

Whoever threatens another with any injury to his person, reputation or property or to the person or reputation of any one in whom that person is interested, with intent to cause that person to give false evidence shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to seven years, or with fine, or with both;

and if innocent person is convicted and sentenced in consequence of such false evidence, with death or imprisonment for more than seven years, the person who threatens shall be punished with the same punishment and sentence in the same manner and to the same extent such innocent person is punished and sentenced.

195a Ipc in Hindi

Say hello

Find us at the office

Schwede- Busard street no. 40, 77937 Riyadh, Saudi Arabia

Give us a ring

Smith Waltimyer
+86 488 682 876
Mon - Fri, 10:00-17:00

Join us